हाइकु:मंजु गुप्ता

 

अकेलेपन
की आग जला देती
मन बस्ती को .

वक्त थपेडों
में मरता – जीता
अकेलापन .

आसूं घूट पी
घुटे अकेलापन
छिपा के गम .

नेह का हाथ
जख्म अकेलेपन
को पाट देता .

जीवन बेल
तन्हाई की काई में
मुरझा जाती .

अकेलापन
दुःखों की सूनामी में
डूबती नाव .

अकेलापन
अनकहे रिश्तों की
जीवन कृति .

आंसू के दीए
जलाती तन्हा साँसें
तेरी यादों के .

मनाकाश ने
अकेलापन संग
रची कथाएँ .

 

- मंजु गुप्ता

जन्म : ऋषिकेश , उत्तरांचल 

शिक्षा : एम.ए ( राजनीति शास्त्र ) , बी.एड

शिक्षण : हिंदी शिक्षिका, जयपुरियार सीबीएससी हाईस्कूल, सानपाड़ा नवीमुंबई 

संप्रति : सेवा निवृत मुख्य अध्यापिका , श्री राम है स्कूल , नेरूल , नवी मुंबई। 

कृतियाँ : प्रांतपर्वपयोधि काव्य,दीपक नैतिक कहानियाँ,सृष्टि खंडकाव्य,संगम काव्य अलबम नैतिक कहानियाँ , भारत महान बालगीत सार निबंध,परिवर्तन कहानियाँ।

प्रेस में : जज्बा ( देश भक्ति गीत )

रुचियाँ : बागवानी , पेंटिंग , प्रौढ़ शिक्षा और सामाजिकता 

प्रकाशन : देश – विदेश की विभिन्न समाचारपत्रों ,पत्रिकाओं में रचनाएँ प्रकाशित। 

उपलब्धियां : समस्त भारत की विशेषताओं को प्रांतपर्व पयोधि में समेटनेवाली प्रथम महिला कवयित्री , मुंबई दूरदर्शन से सांप्रदायिक सद्भाव पर कवि सम्मेलन में सहभाग , गांधी जीवन शैली निबंध स्पर्धा में तुषार गांधी द्वारा विशेष सम्मान से सम्मानित , माॅडर्न कॉलेज वाशी द्वारा सावित्री बाई फूले पुरस्कार से सम्मानित , भारतीय संस्कृति प्रतिष्ठान द्वारा प्रीत रंग में स्पर्धा में पुरस्कृत , आकाशवाणी मुंबई से कविताएँ प्रसारित , विभिन्न व्यंजन स्पर्धाओं में पुरस्कृत, अखिल भारतीय कविसम्मेलन में सहभाग ।

सम्मान : वार्ष्णेय सभा मुंबई , वार्ष्णेय चेरिटेबल ट्रस्ट नवी मुंबई , एकता वेलफेयर असोसिएन नवी मुंबई , मैत्री फाउंडेशन विरार , कन्नड़ समाज संघ , राष्ट्र भाषा महासंघ मुंबई , प्रेक्षा ध्यान केंद्र , नवचिंतन सावधान संस्था मुंबई कविरत्न से सम्मानित , हिन्द युग्म यूनि कवि सम्मान , राष्ट्रीय समता स्वतंत्र मंच दिल्ली द्वारा महिला शिरोमणी अवार्ड के लिए चयन आदि।

संपर्क : द्वारका, नवी मुंबई, भारत  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>