पेड़ लगाना

 

सुबह लगाना शाम लगाना ,
मिले समय जब तभी लगाना |
पेड़ लगाना पेड़ लगाना |

पेड़ बड़े होंगे तब दिन भर,
उड़ उड़ कर चिड़ियाँ आएँगी |
बैठ डाल पर चूँ -चूँ चीं-चीं,
का मीठा गाना गाएंगी |
हट्ट हट्ट कर नहीं भगाना |
पेड़ बड़े होंगे तो उन पर,
फूल खिलेंगे फल निकलेंगे |
पत्ते दे ताली नाचेंगे ,
फुनगी के सिर खूब हिलेंगे |
भँवरे भी गाएंगे गाना |
ग्रीष्म काल में राहगीर जब ,
धूप,तपन से आहत होंगे |
इन विटपों कि छाया में ही,
अपनी गर्मी दूर करेंगे |
मिले चैन का ठौर ठिकाना |
यही पेड़ बादल रोकेंगे,
बादल पानी बन बरसेंगे|
खेत खेत में पानी होगा,
नदिया झरने सर हरषेंगे|
खूब मिलेगा पानी दाना |

 

- प्रभुदयाल श्रीवास्तव

जन्म : 4 अगस्त ,धरमपुरा दमोह {म.प्र.)
शिक्षा : वैद्युत यांत्रिकी में पत्रोपाधि
 
संप्रति : सेवा निवृत कार्यपालन यंत्री म.प्र. विद्युत मंडल छिंदवाड़ा से


लेखन : विगत दो दशकों से अधिक समय से कहानियाँ, कवितायें व्यंग्य, लघु कथाएँ लेख, बुंदेली लोकगीत, बुंदेली लघु कथाएँ, बुंदेली गज़लों का लेखन


प्रकाशन : लोकमत समाचार नागपुर में तीन वर्षों तक व्यंग्य स्तंभ तीर तुक्का, रंग-बेरंग में प्रकाशन, दैनिक भास्कर, नवभारत, अमृत संदेश, जबलपुर एक्सप्रेस, पंजाब केसरी एवं देश के लगभग सभी हिंदी समाचार पत्रों में व्यंग्यों का प्रकाशन, कविताएँ बालगीतों क्षणिकाओं का भी प्रकाशन हुआ। पत्रिकाओं हम सब साथ साथ दिल्ली, शुभ तारिका अंबाला, न्यामती फरीदाबाद‌, कादंबिनी दिल्ली बाईसा उज्जैन, मसी कागद इत्यादि में कई रचनाएं प्रकाशित।वेब पत्रिकाओं में और देश की बाल पत्रिकाओं बाल वाणी बाल प्रहरी देवपुत्र बाल किलकारी टाबर टोली जैसी कई पत्रिकाओं पत्रों में बाल गीत बाल कहानियाँ प्रकाशित।


कृतियाँ : दूसरी लाइन [व्यंग्य संग्रह] शैवाल प्रकाशन गोरखपुर से प्रकाशित
बचपन गीत सुनाता चल [बाल गीत संग्रह] बाल कल्याण एवं बाल साहित्य शोध केन्द्र भोपाल से प्रकाशित


प्रकाशाधीन: बिल क्लिंटन का नामकरण संस्कार [व्यंग्य संग्रह}शैवाल प्
 
प्रसारण : आकाशवाणी छिंदवाड़ा से बालगीतों, बुंदेली लघु कथाओं एवं जीवन वृत पर परिचर्चा का प्रसारण


सम्मान : राष्ट्रीय राज भाषा पीठ इलाहाबाद द्वारा “भारती रत्न” एवं “भारती भूषण सम्मान”; श्रीमती सरस्वती सिंह स्मृति सम्मान, वैदिक क्रांति देहरादून एवं हम सब साथ साथ पत्रिका दिल्ली द्वारा “लाइफ एचीवमेंट एवार्ड”; भारतीय राष्ट्र भाषा सम्मेलन झाँसी द्वारा “हिंदी सेवी सम्मान”; शिव संकल्प साहित्य परिषद नर्मदापुरम, होशंगाबाद द्वारा “व्यंग्य वैभव सम्मान”; युग साहित्य मानस गुन्तकुल आंध्रप्रदेश द्वारा काव्य सम्मान आंचलिक साहित्य परिषद छिंदवाड़ा और बाल कल्याण शोध संसथान भोपाल से सम्मान।


संस्था संबद्धता : अध्य‌क्ष‌ बुंदेल‌खंड‌ साहित्य‌ प‌रिष‌द‌, भोपाल‌, छिंद‌वाड़ा जिला इकाई के अध्य‌क्ष‌
विशेष : बुंदेली लोक गीत, गज़लें, बुंदेली साहित्य पर लेख। वर्ष 2009 में साहित्य अकादमी दिल्ली में आयोजित बुंदेलखंड साहित्य परिषद भोपाल के कार्यक्रम में रवींद्र भवन दिल्ली में बुंदेली की दक्षिणी सीमाएँ विषय पर आलेख का पाठन।


सम्पर्क : शिवम् सुंदरम नगर छिंदवाड़ा म प्र भारत 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>