क्षणिकायें


(१)
बड़ा नाम था उसका
आस-पास के घरों में
इक दिन हवा ने
उसके घर की दरारों से झांका
तो सहम गई …
मुहब्बत टूटी चूड़ियाँ
हाथों में लिए
सिसक रही थी ….. !!

(२)

बहुत कुछ
लिख लेने के बाद भी
कोरा का कोरा ही रहा
दिल का सफ़्हा…
ये कौन सी विधा है …?
जहाँ शब्द होकर भी
नहीं होते ……!!

(३)
बड़ा आसां
जान पड़ता था
एक कदम चलकर
दुसरा कदम चलना
मुहब्बत में मैंने
जब भी कदम बढ़ाये
मुकद्दर के फासले
आगे जा खड़े होते …..!!
(४)

न जाने कितनी बार
सागर ने अपनी लहरों से
तोड़े थे उसके घरौंदे
लेकिन फिर भी वह लिखती है
सागर किनारे बैठ
लहरों के गीत …..!!

(५)
तक़दीर के अँधेरे
खुले बालों में …
पागलों के मानिंद
घूमते फिरते हैं मेरे
इर्द-गिर्द …..
उफ्फ….
आज की यह रात
थकी औरत सी
कितनी ठंडी और
बेजां है …..
(६)
हवा ने …
ज़ख्म को
छेड़ा ही था कि दर्द
खिलखिलाकर हँस उठा …
पल भर को वह सहम उठी
यूँ लगा जैसे यह तो
किसी आशुफ़्ता रूह के
रहने की जगह हो ……

आशुफ़्ता-दुर्दशाग्रस्त
(७)

बड़ा ही मुश्किल है
खुद को समंदर के हवाले कर
अपनी होंद के शब्दों को
हथेली में रख बचा लाना
वक़्त-बे-वक़्त उन्हें देख
मुस्कुरा देना ….
और उसे बूंद की शक्ल में
आँखों के रस्ते से
चुपचाप बहा देना …..

- हरकीरत ‘हीर ‘

शिक्षा : एम.ए (हिन्दी), डी.सी.एच

संप्रति : महिला उत्पीड़न गैर सरकारी संस्था का सञ्चालन ( एन. जी. ओ. )
सृजन : हिन्दी तथा पंजाबी काव्य ,आलेख , कहानियों का लेखन व पंजाबी व असमिया से अनुवाद .
प्रकाशन : (१) ‘इक- दर्द ‘ काव्य संग्रह(२००७) , ( २) दर्द की महक (२०१२) (3) दो काव्य संग्रह प्रकाशनार्थ ( एक हिंदी व एक पंजाबी में )
(२) विभिन्न प्रतिष्ठित राष्ट्रीय पत्र -पत्रिकाओं हंस, वर्तमान साहित्य, नया ज्ञानोदय , पर्वत राग , सरस्वती सुमन ,साहित्य अमृत , समकालीन भारतीय साहित्य , वागार्थ, द फर्स्ट न्यूज ,अभिनव प्रयास , हिंदी चेतना , पुष्प गंधा , साहित्य-सागर ,मनमीत, शुभ- तारिका , पंखुड़ी , अविराम, दैनिक समाचार पत्रों , शब्द (पंजाबी ),प्रतिमान (पंजाबी) आदि में निरंतर प्रकाशन ।

विशेष:

(१) आकाशवाणी एवं दूरदर्शन से काव्यपाठ

(२) इंटरनेट पर अपनाharkirathaqeer.blogspot .com नामक चर्चित ब्लॉग

(३( पूर्वोत्तर की पहली हिंदी महिला ब्लोगर होने का गौरव
(४) कविता – कोष में नाम शामिल

(५) दिल्ली आकाशवाणी से कविताओं का प्रसारण , शिलोंग रेडियो से कविता पाठ
(६) नेट पर उपलब्ध सभी नेट पत्रिकाओं में रचनायें प्रकाशित
(७) कई रचनायें असमिया ,अंग्रेजी , पंजाबी व उडिया में अनुदित
(८) अतिथि संपादन (सरस्वती-सुमन , मनमीत )

(९) ५ काव्य -संग्रहों में रचनायें शामिल

(१०)’ द फर्स्ट न्यूज पत्रिका द्वारा २०११ में किये गए सर्वेक्षण में सर्वश्रेष्ठ हिंदी महिला लेखिकाओं में नाम शुमार
सम्मान : विभिन्न साहित्यिक संस्थाओं से विशिष्ट सम्मान ……

१) पूर्वोत्तर हिंदी अकादमी शिलांगद्वारा २००८का – ” डा.महाराज कृष्ण जैनस्मृति पुरुस्कार “
२) ग्वालियर साहित्य एवं कला परिषद् ग्वालियर (म.प्र.) द्वारा कस्य शिरोमणि२००९ एवं श्रेष्ठ गजल लेखन के लिए ” दुष्यंत कुमार” सम्मान
३) छत्तीसगढ़ , कवर्धा …पुष्पगंधा प्रकाशन द्वारा – ” महादेवी स्मृतिसम्मान’
४) उत्तर पूर्वांचल बहुभाश साहित्य अनुष्ठानद्वारा – सम्मान पत्र
५) ग्वालियर साहित्य एवं कला परिषद् द्वारा – ” शब्द माधुरी” सम्मानपत्र
६) राष्ट्रिय राजभाष पीठ इलाहबाद द्वारा – ” भारती-भूषण ” सम्मान
७)जैमिनी अकादमी – पानीपत , हरियाणा द्वारा – ” कबीर सम्मान “

८) पूर्वोत्तर हिंदी अकादमी , शिलोंग द्वारा ‘श्रीमती सरस्वती सिंह’ स्मृति सम्मान (२०१२)
संपर्क : गुवाहाटी- ७८१००५ (असम )

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>